संवाद संस्था द्वारा किया गया वृक्षारोपण, झारखंड में दो हजार फलदार पौधे लगाने का है लक्ष्य

*

लालपुर से पौधरोपण अभियान शुरु!* 

 *आधी कमाई पर भी घर में रहना चाहते है प्रवासी मजदूर!*

 
 *संवाद संस्था के द्वारा पौधारोपण कार्यक्रम का अभियान 
जावागुड़ी पंचायत के लालपुर गांव से प्रारंभ किया गया पौधरोपण।


 मधुपुर -  5 अगस्त बुधवार को मधुपुर प्रखंड के जावागुड़ी पंचायत अंतर्गत लालपुर गांव में  संवाद संस्था द्वारा पौधरोपण कार्यक्रम प्रारंभ किया गया। लालपुर में आम, नींबू और अमरूद के 90 पौधे लगाए गए। पौधरोपण की शुरुआत समाजसेवी घनश्याम, वरिष्ठ ग्रामीण भोली राय, इस्त्राइल से लौटे कृषि विशेषज्ञ गोकुल यादव, महानंद, इन्द्रदेव, विजय भगत ने संयुक्त रूप से किया। मौके पर समाजकर्मी घनश्याम ने कहा कोरोना महामारी से बचने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता जरूरी है । प्रतिरोधक क्षमता के लिए पौष्टिक भोजन,स्वच्छ पानी और सफाई जरूरी है।संवाद द्वारा आजीविका के लिए सजीव खेती, जैविक खेती के साथ वृक्षारोपण कार्यक्रम चलाया जा रहा है। झारखंड के 14 जिलों के 200 गांव में फिलहाल 2 हजार फलदार पौधरोपण का लक्ष्य है। पौधा को लगाने से लेकर उसे बचाने की जिम्मेवारी ग्रामीणों की होगी। ग्रामीणों की इच्छा अनुसार फलदार पौधा,बांस की धेराबंदी,वर्मी खाद,नीम खल्ली आदि मुहैया कराया गया है। क्षेत्र में 50 गांवों के किसानों को सब्जियों की खेती के लिए बीज आदि देकर प्रोत्साहित किया गया है। जल संरक्षण व मछली पालन की दिशा में प्रयास हो रहा है तालाब,डोभा,भूमि,समतलीकरण के माध्यम से प्रवासी मजदूरों को रोजगार मुहैया कराना है। क्षेत्र के प्रवासी मजदूर अब लौटकर शहरों में नहीं जाना चाहते।आधी कमाई होने पर भी मजदूर गांव में रहना चाहते है। स्वरोजगार और स्वावलंबन की दिशा में कदम बढ़ाने के लिए एकजूट हो रहे हैं। ग्रामोद्योग के माध्यम से प्रवासी मजदूर स्वरोजगार करेंगे।

No comments