जेएमएम केंद्रीय समिति सदस्य राम मोहन चौधरी ने मुख्यमंत्री से की विधानसभा भवन की उच्च स्तरीय जांच की मांग



 देवघर ब्यूरो रिपोर्ट-झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय समिति सदस्य राम मोहन चौधरी ने झारखंड विधानसभा के नए भवन के छत का सीलिंग गिर जाने पर स्वच्छ एजेंसी से जांच की मांग की है । मोहन चौधरी ने टि्वटर के माध्यम से मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन , अपने पार्टी झारखंड मुक्ति मोर्चा एवं विधानसभा अध्यक्ष रविंद्र नाथ महतो से उच्च स्तरीय जांच की मांग की है।उन्होंने कहा कि झारखंड विधान सभा लगभग साढ़े तीन करोड़ झारखंडी जनता के आवाज को उठाने वाली मंदिर है । जिसमें पूरे झारखंड से चुने गए  विधायक गण जनता की आवाज उठाते हैं और उसी मंदिर में बार-बार दुर्घटना होना काफी चिंतनीय है । बड़े लंबे चौड़े दावे पूर्व की भाजपा सरकार ने इस भवन को लेकर किये थे। लेकिन भवन के उद्घाटन के बाद दो बार भवन में घटना हो चुकी है । इससे पहले भवन में आग लग गई थी और अब भवन का सीलिंग ही गिर गया यह काफी दुर्भाग्यपूर्ण है। इसकी गहन जांच पड़ताल होनी चाहिए एवं दोषी संवेदक पर अविलंब कार्रवाई होनी चाहिए ।साथ ही इस प्रकार के घटिया काम में संलिप्त अधिकारी , इंजीनियर एवं सफेदपोश नेताओं पर कार्रवाई होनी चाहिए। जब विधानसभा भवन ही सुरक्षित नहीं है तो उस कार्यकाल में बने स्कूल अस्पताल अन्य कार्यालय हाई कोर्ट सबका जांच करना चाहिए।

No comments