कोरोना काल में निजी विद्यालय का फीस को लेकर अभिभावक परेशान निजी विद्यालय का मनमानी नहीं चलेगी समाजसेवी सह शिक्षक लल्लन मिश्रा

ब्यूरो रिपोर्ट।मधुपुर 21अगस्त शिक्षा व्यवस्था को लेकर समाजसेवी सह शिक्षक ललन मिश्रा ने मधुपुर के भगत सिंह चौक पर जनता के बीच  अपनी बातों को रख जनता को जागरूक करने के प्रयास  किया। उन्होंने कोरोना काल में निजी विद्यालयों के द्वारा छात्रों से फीस वसूली की मनमानी के खिलाफ अपनी बातों को जनता के बीच रखा। निजी स्कूलों के द्वारा मनमाना रवैया से परेशान अभिभावकों के पीड़ा को दर्शाते हुए उन्होंने विरोध के आवाज को बुलंद किया। उन्होंने लोगो को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना काल में मजदूर और मध्यम वर्ग के लोगों का रोजगार बंद होने के कारण सभी के पास जहाँ खाने पीने का अभाव हो गया, वहीं दूसरी ओर विद्यालयों द्वारा मांगी जा रही विद्यायल का फीस कहाँ से भर पाएंगे।जबकि सरकार के द्वारा गाइडलाइन दिया गया है कि अभिभावको पर किसी प्रकार का दवाब बनाकर फ़ीस नहीं लिया जाये उसके के बाद भी निजी स्कूलों के द्वारा ऑनलाइन पढ़ाई के माध्यम से और व्हाट्सअप पर मैसेज के माध्यम से फ़ीस माँग कर अभिभावकों पर दवाब बनाया जा रहा है।

इसको लेकर इन्होंने देवघर में भी एक निजी स्कूल के समक्ष भी धरना दिया था।उन्होंने कहा कि सरकार का निर्देश है कि कोई एडमिशन फीस नही लेगा, किसी भी प्रकार से अभिभावक को परेशान नही किया जायेगा,तो फिर यह सभी स्कूल जो फोन करके मैसेज करके अभिभावक से पैसा जमा करवा रहे है,जो सरासर सरकार के निर्देशों को ठेंगा दिखाने का काम कर रहे हैं।

No comments