होप फ़ॉर कैंसर पेशेंटस संस्था ने पहाड़ में 50 पहाड़िया परिवार के बीच किया सामग्री का वितरण




कोरोना से लोगों को बचाने के लिए भेजी मास्क व राखी

होप फ़ॉर कैंसर पेशेंटस संस्था ने पहाड़ में 50 पहाड़िया परिवार के बीच सामग्री का वितरण



साहिबगंज:--होप फ़ॉर कैंसर पेशेंट्स संस्था ने सोमवार को बोरियो प्रखंड के चतरा धोगोंडा पहाड़ में बसे 50 पहाड़िया परिवार के बच्चों के बीच रक्षा सूत्र,मिठाई व खाद्दान्न सामग्री का वितरण किया।ताकि भाई बहनों का पर्व रक्षा बंधन हर्षोल्लास से मनाया जा सके और खुशियों का रंग फीका न पड़े।इस दौरान भाइयों ने अपनी बहनों से रक्षा सूत्र बंधवाने के बाद उनकी रक्षा का संकल्प लिया। वहीं संस्था कर्मी गोपाल कुमार ने कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने एवं बचाव से संबंधित विस्तृत जानकारी दी।उन्होंने कोरोना महामारी से बचने के लिए सामाजिक दूरी का अनुपालन करने,भीड़-भाड़ वाली स्थानों पर जाने से बचने,फेस मास्क का उपयोग करने,अनावश्यक रूप से घरों से बाहर नही निकलने व हैंड सेनिटाइजर या साबुन से हाथ धोने की सलाह दी। वहीं ग्रामीणों के बीच आंटा, डाल, तेल, नामक, मसाला, बिस्किट, डिटॉल साबुन व अन्य सामग्री का वितरण किया। तस्वीरों वाली खूबसूरत मास्क ने आदिम जनजाति बच्चों का मन मोह लिया। मास्क हाथों में आते ही बच्चे उसे उलट पलट कर देख रहे थे। उनके चेहरे खुशियों से खिल रहे थे। बच्चे बड़े शौक से मास्क अपने चेहरों पर लगा रहे थे। वहीं एक दूसरे को निहार कर बहुत खुश हो रहे थे। मास्क पर बनी आकृतियां उन्हें लुभा रही थीं। वहीं होप फ़ॉर कैंसर पेशेंट्स संस्था की मैनेजिंग ट्रस्टी सीमा सिंह ने बताया कि कैंसर पेशेंट्स राखी पर्व की तैयारी पहले से कर रहे थे। इसके पूर्व उनलोगों ने मेहनत व लगन से मास्क भी तैयार किया। साथ ही राखी भी बनाई। उन्होंने कहा कि जिस तरह राखी सुरक्षा का एहसास कराता है। उसी तरह मौजूदा कोरोना काल में मास्क रक्षा सूत्र है। लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग व अन्य एहतियाती उपायों के अलावा मास्क हर हाल में पहनना ज़रूरी है। इन उपायों से कोरोना पर लगाम लगाना आसान होगा।


No comments