साहेबगंज जिले के पतना व बरहेट में जल्द होगी हेल्थ सब सेंटर की शुरुआत



ज़िले में एम्बुलेंस की सुविद्या होगी दुरुस्त, ख़रीदे जाएंगे पांच नए एम्बुलेंस

सदर अस्पताल में हेल्पडेस्क तथा रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया होगी आसान, लोगों को नहीं होगी समस्या

सदर अस्पताल में टेस्ट तथा डाइग्नोस्टिक का बढ़ेगा दायरा

अस्पताल परिसर, वार्ड, एवं शौचालय की साफ सफाई पर होगा विशेष ध्यान

 पतना तथा बरहेट में होगी हेल्थ सब सेंटर की शुरुआत

पेशेन्ट फ्रेंडली बनेगा सदर अस्पताल

साहिबगंज:-- साहिबगंज सदर अस्पताल का उपायुक्त वरुण रंजन ने निरीक्षण करते हुए सदर अस्पताल के सभागार में व्यवस्था एवं उत्थान की समीक्षा बैठक की।वहीं उपायुक्त वरुण रंजन ने सदर अस्पताल की सभी व्यवस्थाओं की समीक्षा कर उन्होंने कहा कि सदर अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों को मूल भूत सुविधाएं उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

एम्बुलेंस की सुविद्या होगी दुरुस्त:
उपायुक्त वरुण रंजन ने ज़िले में चलने वाले एम्बुलेंस की वर्तमान स्थिति की जानकारी लेते हुए जिले में चलने वाले ममता वाहन,108 एम्बुलेंस तथा अन्य एम्बुलेंस की स्थिति की समीक्षा की।
उन्होंने सिविल सर्जन को एम्बुलेंस कंट्रोल रूम बनाने का निर्देश दिया। साथ ही  कहा कि जिले में 5 एम्बुलेंस और खरीदा जाएगा जिससे  सारे प्रखण्ड में एम्बुलेंस की सुविद्या मुहैया की जा सके।उपायुक्त वरुण रंजन ने कहा कि वैसे ज़ोन को भी चिन्हित कर लें जहां एम्बुलेंस नहीं जा सकता है, वहां बाइक एम्बुलेंस की सुविद्या जल्द दी जाएगी। उपायुक्त ने एम्बुलेंस को जनता के लिए सुगमतापूर्वक चलाने को सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया।
हेल्पडेस्क तथा रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया होगी आसान:
उपायुक्त ने समीक्षा के दौरान पूछताछ केंद्र तथा रिसेप्शन की जानकारी ली एवं पुछताछ को और दुरुस्त करने का निर्देश दिया एवं एक रिसेप्शन सेन्टर बना कर मरीज़ों का रजिस्ट्रेशन, डॉक्टर की उपलब्धता,वार्ड, मेडिसीन से संबंधित जानकारी उपलब्ध करा सके एवं इस पूरी प्रक्रिया की निगरानी हर दिन करने का भी निर्देश दिया।
टेस्ट तथा डाइग्नोस्टिक:
उपायुक्त  ने मरीज़ों की टेस्टिंग को और आसानी से उपलब्ध बनाने पर चर्चा की एवं कहा कि अस्पताल प्रबंधन ऐसी प्रक्रिया अपनाएं जिससे मरीज़ों को टेस्ट के लिए ज्यादा इंतेज़ार न करना पड़े।इस बीच उपायुक्त ने आई-टेस्टिंग के लिए नए मशीन द्वारा  अस्पताल में आंख जांच करने की जानकारी देते हुए बताया कि आंख जांच हेतु अस्पताल को नया मशीन दिया जाएगा। अस्पताल में बन रहे डेंटल क्लिनिक की वर्तमान स्थिति की जानकारी ली। 
साफ-सफाई पर होगा विशेष ध्यान:
उपायुक्त  ने अस्पताल प्रबंधन को साफ सफाई दुरुस्त करने का निर्देश दिया एवं साफ सफाई से मरीज़ों को खाना देने आदि सुविधाओं के लिए प्रतिनियुक्त कर्मियों का चेकलिस्ट बनाने एवं नियमित जांच सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।
बैठक में उपायुक्त वरुण रंजन ने क्लीनिकल मैनेजमेंट को दुरुस्त करने  एवं मरीज़ों के कागजात एवं अन्य समान आदि को बेहतर तरीके से रखने के निर्देश दिए।बैठक के दौरान उपायुक्त ने सभी कार्यों के सुपरवाइज के लिए सर्वसम्मति से नोडल पदाधिकारी चिन्हित किया तथा सभी व्यवस्थाओं के लिए वरीय पदाधिकारी के रूप में डॉ मोहन पासवान को अधिकृत किया।

जिले के दो प्रखण्ड में हेल्थ सब सेंटर की होगी शुरुआत:
उपायुक्त वरुण रंजन ने बैठक के दौरान कहा कि पतना तथा बरहेट प्रखंड में हेल्थ सब सेंटर की स्थापना की जाएगी। इन हेल्थ सब सेंटर में एएनएम उपस्थित रहेंगी जो सबसे पहले मरीज़ की जांच करेंगी तथा आवश्यकता पड़ने पर मरीज़ों को वीडियो कॉल के ज़रिए डॉक्टर्स से कंसल्ट कराएंगी।उपायुक्त ने कहा हेल्थ सब सेंटर की स्थापना से मरीज़ों को दूर नही जाना होगा तथा वह डॉक्टर्स से परामर्श वीडियो कॉल के माध्यम से ले सकेंगे। ऐसी स्थिति में डॉक्टर्स का भी समय बचाया जा सकेगा।वही बैठक में मुख्य रूप से उप विकास आयुक्त मनोहर मरांडी,अनुमंडल पदाधिकारी राजमहल कर्ण सत्यार्थी, सिविल सर्जन डी0एन0 सिंह, डॉ मोहन पासवान,आरपी दास, डॉ रण विजय, डॉ देवेश, डॉ इक़बाल,,डॉ रिंकी गुप्ता, डॉ किरण माला, डॉ दिव्या भारती,जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी विकास हेम्ब्रम, सहित सदर अस्पताल की ए ग्रेड नर्स, ए एनएम,डीडीएम तौशीफ आदि उपस्थित थे।


No comments