मिहिजाम के पाल बागान मैं झारखंड जनजागृति का किया गया बैठक


 देवघर ब्यूरो रिपोर्ट।बैठक का बिसय मुख्य रूप से निजी विद्यालयों द्वारा लॉक डाउन के दरम्यान लिया जा रहा स्कूल फीस और रि एडमिशन फीस रहा।

बैठक में मिहिजाम के कुछ अभिभावकगण ने अपनी समस्या राकेश लाल के समक्ष रखा।

वहीँ राकेश लाल ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आज पूरा देश covid - 19 जैसी माहमारी से जूझ रहा है हर कोई व्यक्ति वो चाहे अमीर हो या गरीब कोरोना वायरस से बचने का उपाय खोज रहा है।देश में लॉक डाउन है करोड़ों लोग अपना रोजगार खो दिए हैं ।करोड़ों लोगों के पास आज भरण पोषण कि समस्या उत्पन्न हो गई है।सरकार से लेकर बहुत से संस्थान ,सामाजिक एवं राजनितिक लोग अपने अपने स्तर से जरुरत मंद लोगों को मदद कर रहे हैं। पुलिस, डॉक्टर, सरकारी कर्मचारी 24 घंटा अपना कर्तब्य निभा रहे हैं सामाजिक जिम्मेवारी निभा रहे हैं।
मगर दुःख होता है कि ऐसी विकट परिस्थिति में भी किस आधार पर निजी स्कूल अभिभावकों से स्कूल फीस जमा कराने का दबाव बना रहे हैं।ऐसे निजी स्कूल अब सामाजिक जिम्मेवारी कि जगह मुनाफाखोरी पर उतर गए हैं ।इस लॉक डाउन में ऐसे भी बहुत निजी स्कूल है जो इस लॉक डाउन के समय तमाम तरह के फीस को माफ़ कर दिए हैं।
झारखण्ड जन जागृति मंच निजी स्कूलों द्वारा ली जा रही मासिक फीस और रि एडमिशन फीस का विरोध करती है ,इस सम्बंन्ध में हमने जामताड़ा उपायुक्त महोदय को एवं चित्तरंजन के महाप्रबंधक महोदय को लिखित शिकायत दिया है।
मिहिजाम के CNC स्कूल ,संत मैरी कान्वेंट स्कूल तथा अन्य निजी स्कूल तथा चित्तरंजन के संत जोसेफ कान्वेंट स्कूल, बी  आर एस स्कूल द्वारा अभिभावकों पर स्कूल फीस का दबाव बनाना उचित नहीं।
हमने उपायुक्त महोदय से मांग किया है कि जामताड़ा जिले के तमाम निजी स्कूलों में फीस माफ़ी को लेकर दिशा निर्देश जारी करने हेतु पहल करें।वहीँ चि. रे. का. महाप्रबंधक महोदय से भी अनुरोध किया है कि इस सम्बंन्ध में चित्तरंजन के तमाम निजी स्कूलों को फीस माफ़ी को लेकर दिशा निर्देश जारी करने हेतु पहल करें।
अगर इसपे तत्काल कोई कार्यवाही नहीं हुई तो झारखण्ड जन जागृति मंच आगे चरणबद्ध तरीके से आंदोलन शुरू करेगी।
इस बैठक में चंद्रशेखर साव,खोखा, सैयद राजू के अलावे अभिभावक सनोज जी, उर्मिला जी ,मोनी देवी जी शम्भू कर्मोकार जी उपस्थित रहे।  संवाददाता नाला जामताड़ा से गौतम ठाकुर।

No comments