विश्व खाद्य दिवस पर एनएसएस द्वारा विमर्श गोष्ठी का आयोजन



कोरोना के संकट में खाद्य पदार्थ उसकी सुरक्षा  श्रमिक मित्र व जरूरतमंद लोगों के लिए उपलब्ध करना एक चुनौती  डॉ रणजीत कुमार सिंह

साहिबगंज:-- विश्व खाद्य दिवस पर राष्ट्रीय सेवा योजना युवा खेल मंत्रालय भारत सरकार के सौजन्य से राष्ट्रीय स्तर पर विमर्श गोष्ठी का आयोजन किया गया।वहीं साहिबगंज महाविद्यालय एन एस एस की ओर से आयोजित कार्यक्रम में बीएसके कॉलेज बरहरवा शिबू सोरेन जनजातीय कॉलेज बोरियो डिग्री कॉलेज राजमहल एनएसएस के कार्यक्रम पदाधिकारी एनएसएस के स्वयं सेवक एवं अन्य छात्र छात्राएं जुड़कर कोरोना के  संकट समय में खाद्य सुरक्षा भोजन अन्न के रख रखाव ,जरूरतमंद व अंतिम व्यक्ति तक भोजन पहुंचे ,किसान जो अन्न देवता है उनको सुविधा मिले खेत बीच बाजार व सार्थन मूल्य अन्न के रख रखाव का विशेष व्यवस्था आदि पर चर्चा कि गई।जिसमें झारखंड   गोवा मध्य प्रदेश आदि से एन एस एस व अन्य छात्र छात्रा जुड़ कर लाभ उठाएंगे।वहीं मुख्य अतिथि व वक्ता सिदो कान्हू मुर्मू विवि से प्रति कुलपति प्रो हनुमान प्रसाद शर्मा  ने रोटी कपड़ा की बात कही साथ फ़ूड सिक्योरिटी व सेफ्टी होना चाहिए बाजार व सही मूल्य  मिले किसान को बिहार से जय प्रकाश विवि के प्रति कुलपति प्रो अशोक कुमार झा पांडिचेरी  से पूर्व कुलपति  प्रो बसीर अहमद खान सिदो कान्हू  मुर्मू विश्वविद्यालय ने कहा कि अधिक महिलाओं को जोड़ कर तथा जन धन योजना से जोड़ कर किसान को एक उद्योग के रूप में विकसित करना चाहिए साथ ही केंद्र सरकार की एक बाजार योजना को सही ठहराया प्रचार्य डॉ सुधीर कुमार सिंह ने  कोरोना काल मे एन एस एस के कार्य व  प्रयास को सहराया। साहिबगज कॉलेज के प्राचार्य डॉ विनोद कुमार बीएसके कॉलेज बरहरवा के कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ बाल गोबिंद कश्यप  एवं विवि की एन एस एस समान्यक डॉ मैरी मार्गेट टुडू जुड़ी । डॉ रणजीत ने कहा भोजन बर्बाद न करें जरूरतमंद लोगों को उपलब्ध कराए । कोरोना काल मे खाद्य पदार्थों का उपज रख रखाव बाजार सही मूल्य मिले।एन एस एस के अनामिका ,मानसी यश शहवाज आदि  सहित दर्ज़नो छात्रो ने भाग लिया।

No comments