कबीर दिवस के अवसर पर विधायक सहित अन्य लोगों ने टेका मत्था


साहिबगंज: कबीर दिवस के अवसर पर शुक्रवार को गांधी चौक के समीप कबीर आश्रम में जस्ट पूर्णिमा कबीर जयंती में एक दिवसीय सत्संग एवं भंडारा का आयोजन किया।इस अवसर पर सत्संग के मुख्य वक्ता रामानंद साहेब ने कहा कि भारतीय अध्यात्म सुख एवं दुख को मनुष्य के जीवन शैली से जोड़कर देखती है। आज सुख हो या दुख सभी हमारे जीवन शैली के कारण ही उपजे हैं। कोरोना जैसी घातक बीमारी मनुष्य को भयाक्रांत करने की नहीं अपितु मनुष्य की पहचान के लिए है। इसके बाद परमात्मा ने सुख के कोई राह अवश्य देखे होंगे क्योंकि पालक अपने संतानों से विमुख नहीं हो सकते जबकि संतान कभी-कभी अपने पालक से जरूर विमुख हो जाते हैं। वहीं इस मौके पर संत सम्राट सदगुरु कबीर साहेब के 623 वे प्रकट दिवस के शुभ अवसर पर राजमहल विधायक अनंत ओझा नगर परिषद अध्यक्ष श्रीनिवास यादव उपाध्यक्ष रामानंद साह एवं सुनील यादव ने कबीर आश्रम पहुंचकर मत्था टेका।इस अवसर पर संत गोपाल साहेब, संत रामचंद्र साहेब, संत बम बम साहेब, संत किस्टो साहेब, संत जगदीश साहेब, संत सेवक साहेब, संत विष्णु देव साहेब, संत शकुंतला साध्वी एवं रिंकू दासीन सहित अन्य उपस्थित थे।

साहिबगंज से देव आर्यन की रिपोर्ट।

No comments