भीषण गर्मी में गहराया जल संकट पानी टंकी बनी शोभा की वस्तु


उधवा/साहिबगंज:गर्मी के दस्तक देते ही इन दिनों जल संकट अभी से गहराने लग गया है।जून का महीना आरंभ हो चला है।इस महीने में सूरज आग उगलना शुरू कर दिया है।इस भीषण गर्मी में कहीं टंकी से मिलने वाली पेयजल की व्यवस्था में कमी ,कही चापाकल की खराबी।जिसके कारण ग्रामीण क्षेत्रों के लोग पीने के पानी के लिए काफी दूर तय कर घंटों लाइन पर खड़े रहने के बाद पानी लाने को विवश है।लेकिन,अभी तक किसी विभागीय द्वारा पानी टंकी को दुरुस्त करने को लेकर कोई तैयारी नहीं दिख रही है।वही जल संकट गहराने से ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है।इस भीषण गर्मी में ग्रामीणों की पानी की किल्लत दूर हो पाना संभव नहीं लग रहा है।ऐसा ही एक मामला एक गांव की है।जानकारी के मुताबिक प्रखंड मुख्यालय से लगभग 12 किमी दूर स्थित चाँदशहर गांव बसा है।इस गांव की आबादी लगभग सात हजार के आसपास है।जो एक ही उस गांव की पंचायत है।वार्ड संख्या की बात की जाए तो फिलहाल 11 वार्ड संख्या है।वही वार्ड संख्या 7 स्थित दफादार टोला में लगभग 270 लोगों को समुचित पेयजल की व्यवस्था नहीं है।विभागीय द्वारा लगाए गए टंकी सिर्फ शोभा की वस्तु बनकर रह गयी है।इस दौरान ग्रामीण इसराफुल शेख,डालिम शेख,तासलिम शेख,इमामुल शेख,राहुल शेख नेराबुल शेख,रोजू शेख,फुलचाँद शेख,अब्दुल नदाब,सुकरान शेख,तौक़ील शेख सहित अन्य लोगों का कहना है कि बीते तीन माह पूर्व टंकी लगाया गया था।जो उस समय से दम तोड़ती नजर आ रही है।जिस समय टंकी लगवाया जा रहा था,तब लोगों को लगा था कि शहर में पेयजल के लिए इधर उधर भटकना नहीं पड़ेगा।लेकिन बरती गई अनियमितता और विभागीय लापरवाही के कारण दम तोड़ चुका है।वर्तमान समय मे प्यास बुझाने वाला इस टंकी से पानी नही मिलने के कारण नहाने से लेकर खाना पकाने में दिक्कत हो रही है।पिछले तीन माह से ग्रामीणों को पानी की किल्लत हो रही है।इस समस्या को लेकर मुखिया व जल विभाग को अवगत कराया गया है।लेकिन आश्वासन के अलावे कोई व्यवस्था नही मिल पा रही है।अगर एक हफ्ते के अंदर जल संकट दूर नही हुई तो चरणबद्ध होकर आंदोलन पर उतरने को विवश हो जाएंगे।


साहिबगंज से देव आर्यन की रिपोर्ट।

No comments