प्रखण्डों की तैयारी तथा उनके दायित्व पर समीक्षा बैठक


साहिबगंज : कोरोना संक्रमण से निपटने के लिये जिला प्रशासन द्वारा विभन्न प्रयास किये जा रहे हैं। इसी संबंध में शुक्रवार को उपायुक्त वरुण रंजन की  अध्यक्षता में  समाहरणालय स्थित सभागार में सभी प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी के साथ कोरिन वायरस से बचाव तथा रोकथाम के लिए प्रखण्डों की तैयारी तथा उनके दायित्व पर समीक्षा बैठक की गयी।बैठक में उपायुक्त ने बाहर से आ रहे प्रवसी श्रमिकों को पॉलिटेक्निक कॉलेज में बने सक्रीनिंग सेंटर तथा जिस रेलवे सटेशन पर श्रमिक आ रहे वहां से बसों द्वारा उन्हें के संबंध में मजिस्ट्रेट ड्यूटी की समीक्षा की तथा प्रखण्ड विकास पदाधिकारियों से कहा की मजिस्ट्रेट से संबंधित ब्लॉक के कर्मियों का समन्वय स्थापित कर श्रमिको को ब्लॉक लाना सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।समीक्षा बैठक में उपायुक्त श्री रंजन ने कहा प्रखण्ड विकास पदाधिकारि पंचायत वार कितने लोग बाहर से आ रहे हैं लिस्ट दे तथा वहां मूलभूत सुविधाओं को दुरुस्त कर लें।उन्होने सभी पदाधिकारियों से उनके प्रखण्ड में कोरेंटिंन केंद्रों का भ्रमण कर समय समय पर वस्तुस्थिति की जानकारी लेते रहने का निर्देश दिया।उपायुक्त वरुण रंजन ने बैठक में प्रखण्ड वार प्रखंडों में बने कोरेंटिंन केंद्रों की जानकारी ली। एवं वहाँ उपस्थित होम गार्ड की जानकारी भी ली।बैठक में उन्होंने सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारियों को कोरेंटिंन सेंटर में सभी सुविद्याएँ बहाल करने का निर्देश दिया।बैठक में सभी बी.डी.ओ. से संबंधित प्रखण्ड से कोरेंटिंन केंद्रों पर रखे गए लोगों की अवधि समाप्त होने पर छोड़े गए लोगों के बारे में जानकारी ली।तथा सभी केंद्रों पर वैसे लोग जिनकी कोरेंटिंन अवधि पूरी हो गयी हो तथा उनका कोरोना सैंपल नेगेटिव रहा है तो उन्हें ससमय घर भेजने का निर्देश दिया।उन्होने सभी बीडीओ को किसी भी कोरेंटिंन केंद्र में श्रमिकों द्वारा या अन्य किसी भी लोगो के द्वारा किसी भी मूवमेंट को रोके जाने का निर्देश दिया।बैठक में उपायुक्त  ने महिलाओं एवं बच्चों का विशेष ध्यान रखने का निर्देश दिया। तथा कोरेंटिंन सेंटर इंचार्ज को केंद्र में रहने का निर्देश दिया।उन्होंने वीडियो बैठक के दौरान कहा कि सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारि कोरेंटिंन केंद्रों को मेन्यू के अनुसार भोजन दें तथा उन्हें हर समय गर्म खाना दे इसके लिए वह ऐसी व्यवस्था करें जिसमे उनका खाना केंद्र पर ही बन सके।समीक्षा बैठक में उपायुक्त ने हर दिन कोरेंटिंन केंद्रों पर डॉक्टर्स की टीम द्वारा श्रमिकों की जांच किये जाने को सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया। होम कोरेंटिंन में रहें लोगों एवं आम जनों के लिए जागरूकता अभियान की समीक्षा: बैठक में उपायुक्त ने होम कोरेंटिंन के सम्बंध में जिले में शुरू किए जाने वाले अभियान पर चर्चा की।उन्होंने बताया कि बाहर से आ रहे लोगों को जिला प्रशासन द्वारा होम कोरेंटिंन में भेजा जा रहा है परंतु आवश्यक यह है कि आम जन भी दर से न निकले तथा सेल्फ़ कर्फ़्यू की स्थिति बनाएं।उन्हीने बताया लोगों को घर में रहने को लेकर जागरूक करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा विशेष अभियान की शरुवात की जा चुकी है । उन्होंने कहा कि डोर टू डोर अभियान की समीक्षा की एवंलोगों को घर पर रहने के लिए जागरूकता अभियान की जानकारी ली।बैठक में साहिया तथा सेविकाओं द्वारा घर घर जा कर दोबारा सर्वे किये जाने वाले रिपोर्ट की समीक्षा की गई।
उपायुक्त श्री रंजन द्वारा पंचायत स्तर पर सोशल पुलिसिंग की समीक्षा की। पैदल यात्रियों के लिए व्यवस्था पर चर्चा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए उपायुक्त वरुण रंजन ने बीडीओ को जो भी प्रखण्ड सीमा पर अवस्थित हैं उनके यहाँ सड़क मार्ग से आने वाले प्रवसी मज़दूरों के लिए चेक नाका पर खाने पीने तथा वाहन की व्यवस्था की समीक्षा की तथा व्यवस्था को और अधिक सुदृढ़ करने का निर्देश दिया।उपायुक्त श्री रंजन ने पैदल आने वाले श्रमिकों के लिए खाने की व्यवस्था कर तथा संबंधित जिले के सक्रीनिंग केंद्र भेजने का निर्देश दिया। एवं अगर अन्य राज्यों को जा रहे हैं तो उन्हें सीमा तक भेजने की भी व्यवस्था करने का भी निर्देश दिया।बैठक में उपायुक्त ने कोरेंटिंन केंद्रों पर एंट्री एग्जिट कराने का निर्देश दिया तथा रात की आवा-जाहि पर रोक लगाने का निर्देश दिया। बैठक में सिक्योरिटी की व्यवस्था पर चर्चा हुई एवं सिक्योरिटी को चुस्त करने का भी निर्देश दिया।
इसके अतिरिक्त बैठक में मनरेगा की स्थिति पर चर्चा की।बैठक में उप विकास आयुक्त मनोहर मराण्डी, अनुमंडल पदाधिकारी पंकज साव,निदेशक एन0ई0पी0 मंजू रानी स्वांसी, एवं सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी उपस्थित थे।

No comments