क्वारंटाइन सेंटरों में श्रमिको को घर जैसा अनुभव कराने की कोशिश में उपायुक्त वरुण रंजन



विभिन्न क्वारंटाइन केंद्रों पर श्रमिकों के बीच नास्ते में पूरी सब्ज़ी, का वितरण


साहिबगंज :--कोरोना वायरस से निपटने के लिए जिला स्तर पर कई प्रयास किये जा रहे हैं, इन्ही प्रयासों में उपायुक्त वरुण रंजन के निर्देशनुसार क्वारंटाइन केंद्रों में घर से दूर क्वारंटाइन अवधि बीता रहे लोगों के लिए जिला प्रशासन द्वारा पौष्टिक व स्वादिष्ठ भोजन की व्यवस्था की जा रही है।  कल कई क्वारंटाइन केंद्रों में भोजन के साथ साथ मिठाई भी दी गयी है एवं अब केंद्रों पर दाल,सब्ज़ी के अतिरिक्त अंडा बिरयानी, चिकन चावल, मटन चावल, सलाद सेवई आदि भी परोसा जा रहा है। इसी क्रम में पुरुष आश्रय गृह में पूरी सब्ज़ी,महिला आई0टी0आई0 में पूरी सब्ज़ी,विवाह भवन सिध्हो कान्हू क्वारंटाइन केंद्र में पूरी सब्ज़ी,राधानगर पीएचसी में मुढ़ी घुघनी,हाइस्कूल बड़ी कोदर्जनना में पूरी सब्ज़ी, उधवा प्रखंड के आईटीआई मोहनपुर क्वारंटाइन सेंटर में सुबह के नाश्ते में  पूरी सब्जी, गंगा भवन राजमहल में चूड़ा फ्राई तथा चनाचूर, एवं अन्य क्वारंटाइन केंद्रों पर पूरी सब्ज़ी वितरित किया गया। जिला प्रशासन ने सुबह के नास्ते के साथ -साथ अब क्वारंटाइन सेंटर्स पर शाम के नास्ते की भी व्यवस्था की है, जिसमे लोगों को मुड़ी,चना,सलाद तथा पकौड़ा दिया जा रहा है। उपायुक्त वरुण रंजन कहते हैं जिला प्रशासन क्वारंटाइन अवधि बीता रहे लोगों के अच्छे स्वास्थ्य की कामना करते है ,और चाहते है कि लोगों को ऐसा न लगे कि वह घर से दूर हैं। अपने परिवार जनों से दूर जिला प्रशासन श्रमिकों को घर जैसा अनुभव देने का पूरा प्रयास करेगी तथा वह सभी लोगों को मुस्कुराते हुए चेहरे के साथ वापस भेजना चाहती है। उपायुक्त श्री रंजन बताते हैं कि सभी क्वारंटाइन केंद्रों की बेहतरी का पहला कदम हमने खाने की गुणवत्त्ता में सुधार से शुरू किया है, इस संकट की स्थिति में जब लोग अपने परिवार से दूर हैं तो ऐसे में जिला प्रशासन एवं समाज की जिम्मेदारी बनती है कि उन सभी लोगों की हौसला अफजाई करे और इसी बाबत उनमें अच्छे भोजन के ज़रिए सकारात्मक विचार डालने का प्रयास किया जा रहा है। सभी पदाधिकारीयों को निर्देश दिया गया है कि वे क्वारंटाइन केंद्रों का एक मेन्यू तैयार करें जिसमें पौष्टिक भोजन के साथ -साथ फल, नॉनवेज, मिठाई आदि भी परोसें जाय जिससे किसी को भी घर से दूर होने का एहसास न हो।


No comments